Corona in Bihar: आईएमए के कार्यक्रम में शामिल 17 डॉक्टर हुए संक्रमित, CM नीतीश भी हुए थे शामिल 

0

– फोटो : PTI

ख़बर सुनें

कोरोना ने देश में एक बार फिर से डर का माहौल पैदा कर दिया है। सभी राज्यों में तेजी से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। इस बीच बिहार में कोरोना संक्रमण ने डॉक्टरों को भी अपनी चपेट में ले लिया है। दरअसल, 28 दिसंबर को बिहार में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का वार्षिक कार्यक्रम हुआ था। इस कार्यक्रम में शामिल होने वाली नालंदा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल के 17 डॉक्टरों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। खास बात यह है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी इस कार्यक्रम में शिरकत की थी।

नालंदा मेडिकल कॉलेज की ओर से खुद इसकी पुष्टि की गई है। कॉलेज प्रशासन की ओर से बताया गया कि कार्यक्रम में शामिल होने वाले 17 डॉक्टरों की एंटीजन रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके बाद सभी डॉक्टरों का आरटी-पीसीआर टेस्ट किया गया है, जिसकी रिपोर्ट आना बाकी है।

31 दिसंबर को सामने आए थे 281 मामले
बिहार में साल के आखिरी दिन कोरोना के कई मामले सामने आए थे। राज्य में कुल 281 मामलों की पुष्टि हुई थी, जिसमें अकेले पटना में 136 संक्रमित मिले थे। इसके अलावा 70 मामले गया और 10 मुंगेर में सामने आए थे।

सीएम कर चुके हैं तीसरी लहर की घोषणा
सीएम नीतीश कुमार ने आईएमए के इस कार्यक्रम में ही बिहार में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत होने की घोषणा की थी। पिछले एक सप्ताह में राज्य में कोरोन के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। फिलहाल, बिहार में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 749 हो गई है।

विस्तार

कोरोना ने देश में एक बार फिर से डर का माहौल पैदा कर दिया है। सभी राज्यों में तेजी से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। इस बीच बिहार में कोरोना संक्रमण ने डॉक्टरों को भी अपनी चपेट में ले लिया है। दरअसल, 28 दिसंबर को बिहार में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का वार्षिक कार्यक्रम हुआ था। इस कार्यक्रम में शामिल होने वाली नालंदा मेडिकल कॉलेज व अस्पताल के 17 डॉक्टरों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। खास बात यह है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी इस कार्यक्रम में शिरकत की थी।

नालंदा मेडिकल कॉलेज की ओर से खुद इसकी पुष्टि की गई है। कॉलेज प्रशासन की ओर से बताया गया कि कार्यक्रम में शामिल होने वाले 17 डॉक्टरों की एंटीजन रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके बाद सभी डॉक्टरों का आरटी-पीसीआर टेस्ट किया गया है, जिसकी रिपोर्ट आना बाकी है।

31 दिसंबर को सामने आए थे 281 मामले

बिहार में साल के आखिरी दिन कोरोना के कई मामले सामने आए थे। राज्य में कुल 281 मामलों की पुष्टि हुई थी, जिसमें अकेले पटना में 136 संक्रमित मिले थे। इसके अलावा 70 मामले गया और 10 मुंगेर में सामने आए थे।

सीएम कर चुके हैं तीसरी लहर की घोषणा

सीएम नीतीश कुमार ने आईएमए के इस कार्यक्रम में ही बिहार में कोरोना की तीसरी लहर की शुरुआत होने की घोषणा की थी। पिछले एक सप्ताह में राज्य में कोरोन के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। फिलहाल, बिहार में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 749 हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here